Khushiyan - Connecting Helping Hands
MENU

Tagged as: new year

new year cake with shanti gyan trust children

new year bash with shanti gyan sewa trust delhi ngo children

कभी किसी शायर ने कहा था : “सुनते हैं खुशी भी है ज़माने में कोई चीज़, हम ढूंढते फिरते हैं ये किधर है, ये कहाँ है…” फिर निदा फ़ाज़ली साहब ने खुशी का पता बताया: “घर से मस्जिद है बहुत दूर चलो यूं कर लें, किसी रोते हुए बच्चे को

Read More