Khushiyan - Connecting Helping Hands
MENU

Tagged as: Lohri

volunteers experience during lohri Celebrations at ummeed aman ghar- 16th Jan 16

ज़िंदगी खुशियों की मोहताज़ नही होती, बेंतिहा दर्द देने वाली साज़ नही होती, हम तो बेवफ़ाई को मान लेते है सच, बंद किताबों जैसा वो कोई राज़ नही होती || DV || जब ‘उम्मीद अमन घर’ में लोहरी का जश्न मानने के लिए खुशियाँ टीम में कदम रखा तो यह

Read More